शुक्रवार, 4 मार्च 2011

2011 के गुरुकुल काँगडी विश्वविद्यालय हरिद्वार के दीक्षाँत मेँ लोक सभा अध्यक्ष माननिय मीरा कुमार जी

मेँ भारत सरकार से एक प्रश्न पूछना चाहता हूँ कि सरकार भष्टाचार को बढावा दैने मेँ भष्टाचरियोँ का कब तक साथ देगी , हर विभाग ये कहकर बच जाता है कि उसने जानबूझकर नहीँ गलती से कर दिया कि परम्परा चलाने के लिये ही सरकारी धन का उपयोग करना चाहती है , उदाहरण के तोर पर गुरुकुल काँगडी विश्वविद्यालय हरिद्वार द्वारा सन् 2009 का स्वर्ण पदक व प्रमाण -पत्र के 5 मार्च 2011 मेँ सहदेव शर्मा को दिये जाने की सूचना 4 मार्च तक भी दी चा रही थी , 4 मार्च रात्रि को फोन कर बताया गया कि आपके नाम को हटाया जाता है आप 5 मार्च 2011 प्रातः 9 बजे लिखित देँ की मेरी जगह देव स्वरूप आर्य का नाम आना चाहिये इसके लिये हमारे पी एच डी निर्देशक ( 10 मार्च की आर ॰ डी ॰ सी ॰ होने के बाद निर्देशक होने बाले ) भी कह रहेँ कि लिख दो , मुझे स्वर्ण पदक की भूख नहीँ है , विरोध करने पर आर॰ डी॰ सी॰ की कमेटी मुझे बाहर कर देगी , भारत मेँ भष्टाचार और पहुच के कारण योग्य उम्मीदवार को भी बाहर कर अयोग्य व्यक्ति को सम्मान दिया जाता है इसके लिये सरकार गम्भीर नहीँ है , गमभीर है नियम कानून के माध्यम से भष्टाचार करने के लिये प्रोतसाहन देकर देश का नाश करने के लिये

6 टिप्‍पणियां:

  1. ब्‍लागजगत पर आपका स्‍वागत है ।

    संस्‍कृत की सेवा में हमारा साथ देने के लिये आप सादर आमंत्रित हैं,
    संस्‍कृतम्-भारतस्‍य जीवनम् पर आकर हमारा मार्गदर्शन करें व अपने
    सुझाव दें, और अगर हमारा प्रयास पसंद आये तो संस्‍कृत के
    प्रसार में अपना योगदान दें ।

    यदि आप संस्‍कृत में लिख सकते हैं तो आपको इस ब्‍लाग पर लेखन के लिये आमन्त्रित किया जा रहा है ।

    हमें ईमेल से संपर्क करें pandey.aaanand@gmail.com पर अपना नाम व पूरा परिचय)

    धन्‍यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  2. शुभागमन...!
    हिन्दी ब्लाग जगत में आपका स्वागत है, कामना है कि आप इस क्षेत्र में सर्वोच्च बुलन्दियों तक पहुंचें । अपने प्रयासों में सफलता हासिल करने के लिये आप हिन्दी के दूसरे ब्लाग्स भी देखें और अच्छा लगने पर उन्हें फालो भी करें । आप जितने अधिक ब्लाग्स को फालो करेंगे आपके अपने ब्लाग्स पर भी फालोअर्स की संख्या बढती जा सकेगी । प्राथमिक तौर पर मैं आपको 'नजरिया' ब्लाग की लिंक नीचे दे रहा हूँ आप इसके दि. 18-2-2011 को प्रकाशित आलेख "नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव" का अवलोकन अवश्य करें और इसे फालो भी करें । आपको निश्चित रुप से अच्छे परिणाम मिलेंगे । शुभकामनाओं सहित...
    http://najariya.blogspot.com/2011/02/blog-post_18.html

    उत्तर देंहटाएं
  3. मेँ भष्टाचार के खिलाफ हूँ पर यह मिट नही सकता कम भी तभी होगा जब हम अच्छे बनेँ तब जग अच्छा लगेगा साथ ही हम और आप अच्छे बनेँ कहते हैँ अच्छे काम मेँ चलना कठिन होता एक आगे चलता है तब और भी चल पडते हैँ , आगे बढिये मैँ आपके साथ हूँ शुभ कामनाऔ सहित

    उत्तर देंहटाएं
  4. इस नए सुंदर से चिट्ठे के साथ हिंदी ब्‍लॉग जगत में आपका स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. कोई कुछ भी कहता रहे जब तक हम कहते रहेँगे कुछ होने बाला नही जब करेगेँ तभी कुछ होता है आज मानव अत्याचार सहकर अत्याचारी का शाहस बढाता है जिसषे अनाचार बढता है

    उत्तर देंहटाएं
  6. अन्ना हजारे के साथी बाबा रामदेव भी साथ छोड भागे पर अन्ना लगे रहो भविष्य तुम्हे याद करेगा

    उत्तर देंहटाएं